जहन्नुम से भी बुरा हाल है IS की ‘सेक्स स्लेव’ की जिंदगी!

दुनिया भर में अपनी हैवानियत और दरिंदगी से कोहराम मचाने वाले आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) न केवल अपनी क्रूरता के लिए कुख्यात हैं बल्कि महिलाओं पर अत्याचार ढाने के लिए भी बदनाम हैं। वे महिलाओं के साथ कैसा बर्ताव करते हैं इसका खुलासा उनकी चंगुल से पाई एक यजीदी मूल की ‘सेक्स स्लेव’ ने अपनी किताब में किया है।

दुनिया भर में अपनी हैवानियत और दरिंदगी से कोहराम मचाने वाले आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) न केवल अपनी क्रूरता के लिए कुख्यात हैं बल्कि महिलाओं पर अत्याचार ढाने के लिए भी जाने जाते हैं। वे महिलाओं के साथ कैसा बर्ताव करते हैं इसका खुलासा एक यजीदी मूल की पीड़िता ने अपनी किताब में किया है।

is-sex-slave1आईएस ने शिरीन (बदला हुआ नाम) को नौ महीनों तक सेक्स स्लेव बना कर रखा। अगस्त 2014 में उसे आतंकियों ने किडनैप किया था, जिसके बाद उन्होंने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। वे शिरीन को इतना मारते थे, जिससे बाथ टब में पानी उसके खून से लाल हो जाता था। आईएस आतंकी गंदी गालियां देते थे।

पीड़िता के मुताबिक मुझे ऐसा लगता था जैसा मानों किसी ने मेरी टांगों के बीच टूटे हुए कांच का टुकड़ा दबा दिया हो। आईएस की बर्बरता की कहानी और अपनी दर्द भरी आपबीती को उसने ‘आई रिमेन ए डॉटर ऑफ द लाइट’ (I remain a daughter of the light) में बयां किया है।

is-sex-slave2पीड़िता ने इस बाबत कहा कि आईएस आतंकियों ने उसे उसका बच्चा गिराने तक के लिए मजबूर किया था, जो कि 60 साल के एक आतंकी और उसका बच्चा था। 17 साल की उम्र में शिरीन वकील बनने का सपना देखती थे, लेकिन उसे क्या पता था कि उसके आने वाले नौ महीने रातों से भी काला और भयानक होंगे।

पीड़िता के मुताबिक जब-जब मेरे साथ बदसलूकी होती थी तो मुझे ऐसा लगता था कि कोई अंदर से मुझे काट रहा है। मेरे शरीर का हर हिस्सा जख्मी महसूस करता था। यह बहुत दर्दनाक था। उसने आगे बताया कि मेरे पेट का निचला हिस्सा लगभग जल चुका था, जैसे कि किसी ने बुरी तरह से मेरे पैरों के बीच कांच का टुकड़ा दबा दिया हो।

19 साल की शिरीन बताती हैं कि मेरी सहेली मुझे नहलाती थी और मेरे बदन पर क्रीम मलती थी। वह मेरे घावों को भरने की कोशिशें करती थी। यहां मुझे महसूस हुआ कि पानी का रंग मेरी चोटों से निकलने वाले खून से लाल हो जाता था। शिरीन इकलौती पीड़िता नहीं जो ऐसी बर्बरता का शिकार हुई है। कुर्दिश सरकार के मुताबिक लगभग सात हजार महिलाएं और बच्चों को आईएस ने अगवा कर अपना स्लेव बनाया।

Loading...
loading...
Comments