किशोरावस्था पहुंचे ही लड़कियों के शरीर में आते है ये बदलाव

किशोरावस्था से जवानी की दहलीज़ पर कदम रखते ही मानव शरीर में विशेष बदलाव होते हैं। इन बदलावों में शारीरिक संरचना का बदलाव, स्वाभाव का बदलाव एवं जीवनशैली का बदलाव शामिल हैं। यह वह समय होता हैं जब आप के हार्मोन्स में बदलाव होना शुरू हो जाता हैं और आप प्रजनन योग्य बन जाते हैं। आइए जानते है इस दौरान शरीर में क्या क्या बदलाव होते है।

लड़कों की यौवनावस्था के शुरू होने पर उनके शरीरी की लम्बाई पहले की तुलना में अधिक रफ़्तार से बढ़ने लगती हैं।

कंधो की चौड़ाई में भी वृद्धि होती हैं।

टेस्टोस्टरों के प्रभाव से लिंग में वृद्धि होती हैं तथा अंडकोष की त्वचा का रंग लाल हो जाता हैं।

लिंग, दाढ़ी एवं भुजाओं के आस पास बाल दिखने लगते हैं।

आवाज गहरी हो जाती हैं।

यौवनावस्था के दौरान लड़कियों में होने वाले बदलाव:-

शरीरी की लम्बाई अधिक रफ़्तार से बढ़ने लगती हैं।

बाहों, स्तनों और जननेन्द्रिय के आस पास बाल आने लगते हैं

योनि से मासिक रक्त स्त्राव यानी रजोधर्म शुरू हो जाता हैं।

स्तनों के आकर में वृद्धि होती हैं।

त्वचा के तेलीय हो जाने से मुंहासें निकल आते हैं।

Loading...
loading...
Comments