शू बाइट के लिए ये हैं बिलकुल परफेक्ट राइट

शूज की नई जोड़ी का अलग ही चार्म होता है! लेकिन शू बाइट की चिंता भी कम नहीं होती क्योंकि हर बार इससे बच पाना मुमकिन नहीं होता। यह दिक्कत अक्सर तब होती है जब टाइट शू आपके तलवे की स्किन से रगड़ता है।

महिलाओं के मामले में तो यह कहा भी जाता है कि शू बाइट का पाला उनको ज्यादा झेलना पड़ता है क्योंकि उनके फुटवियर पुरुषों के मुकाबले ज्यादा पतले बने होते हैं। जब भी जूता काटता है तो पहला काम तो आप यह करते हैं कि जूता पहनना ही छोड़ देते हैं। लेकिन कुछ नेचरल चीजें भी हैं जो आपके घाव को ठीक करने में काफी मददगार साबित होंगी।

नारियल के तेल में मॉइश्चराइजर होता है जो शू बाइट को जल्दी ठीक करने में सक्षम है। ऑइनमेंट बनाने के लिए आप नारियल के पेड़ की हरी पत्तियों को जलाइए, इसे नारियल के तेल में मिक्स करके घाव पर लगाएं। नए शू पर अंदर की तरफ नारियल तेल लगाने से ये घाव भी नहीं होगा। शू बाइट से बचाने के लिए यह कारगर उपाय है।

शहद भी घाव को तेजी से भरने में सहायक है। इससे खुजली से राहत मिल जाती है और जलन भी नहीं होती। दर्द में भी यह राहत देता है। सबसे बड़ी बात तो शू बाइट का दाग भी हल्का कर देता है। शहद को तिल के तेल में मिलाइए और प्रभावित जगह पर लगाइए, सूखने के बाद इसे गर्म पानी से धो लीजिए।

चावल के आटे को घर पर बने स्क्रब की तरह भी उपयोग में लाया जाता है और इससे डेड स्किन की परत हटाई जाती है। एक चम्मच राइस फ्लोअर में पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लीजिए और शूट बाइट वाली जगह पर लगाइए। 15 मिनिट तक लगा रहने देने के बाद इसे हल्के गर्म पानी से धो लीजिए।

ऐलो वेरा में जलन कम करने, सूजन उतारने और दर्द से निजात दिलाने की ताकत होती है। शू बाइट में यह काफी राहत देता है। यह इनफेक्शन भी रोक देता है। इसकी पत्तियों से तैयार जेल को प्रभावित जगह पर लगाएं और सूखने दें। हल्के गर्म पानी से धोते ही राहत मिलेगी।

शू बाइट के मामले में शायद पेट्रोलियम जेली का ही सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है। इस वंडर जेली का एक बड़ा टुकड़ा लें और नए शू के अंदर रगड़ लें। रातभर के लिए जूते को ऐसा ही छोड़ दें। इससे शू नरम हो जाएंगे और शू बाइट की आशंका कम हो जाएगी। अगर आपको पहले ही जूता काट चुका है तो इसे घाव पर लगा लें, इसकी मॉइश्चराइज करने की खूबी से यह घाव जल्दी ठीक हो जाएगा।

Loading...
loading...
Comments