भारत में पाई जाती हैं कई जहरीले सांपों की प्रजातियां

भारत के विविधता पूर्ण घने जंगलों में अनेकों प्रकार के जीव जन्तु पाए जाते हैं। लेकिन इन जंगलों में वे सबसे अधिक जहरीले सांप भी पाए जाते हैं जिन्हें देखने मात्र से ही लोग खौफ खा जाते हैं। जन्तु वैज्ञानिकों के मुताबिक भारत में पाए जाने वाले सांपों की कुछ 270 प्रजातियां हैं। इनमें से 60 प्रजातियां जहरीली हैं।

लेकिन चार ऐसी जहरीली प्रजातियां हैं जिनके काटने से इंसान का बचना बहुत मुश्किल है। सांपों के काटने से हर साल करीब 20 हजार लोगों की मौत हो जाती है। यहां हम आपको भारत के सबसे जहरीलों सापों के बारे में कुछ ऐसी दिलचस्प जानकारियां देने जा रहे हैं जिनके बारे में आपने शायद पहले कभी नहीं सुना होगा।

कोबरा – भारतीय को कोबरा को यहां नाग भी कहते हैं। नाग एक ऐसा सांप है जिसे जहर के मामले में सबसे ज्यादा खतरनाक माना जाता है। नाग पूरे भारत में पाया जाता है। यह खुले स्थानों जैसे खेतों आदि में रहना पसंद करता है। इसका भोजन प्रमुख रूप से चूहे, छिपकली और मेढ़क होते हैं। ऐसा माना जाता है कि यही नाग ही भगवान शिव के ज्योतिषलिंग में लिपटा हुआ होता है। हिन्दु कथाओं में इसे पवित्र सांप भी माना जाता है और नागपंचमी के मौके पर इन्हीं की पूजा की जाती है। आगे पढ़ें उस सांप के बारे में जिसके काटने से एक बारे में मर सकते हैं 60 लोग।

करैत – नाग के बाद करैत प्रजाति के सापों को सबसे ज्यादा जहरीला माना जाता है। इसका जहर इतना खतरनाक होता है कि अगर यह किसी को काट ले तो पीडित व्यक्ति को लगवा तक मार सकता है। भारत में करैत की 12जातियां और तीन उप जातियां पाई जाती हैं। कुछ जीव वैज्ञानिक को करैत को दुनिया का सबसे ज्यादा जहरीला सांप भी मानते हैं। कहा जाता है कि एक बार के काटने से इससे जितना जहर निकलता है उससे 60 लोगों की मौत हो सकती है। यह सांप ज्यादातर घने जंगलों में ही पाया जाता है।

रुसेल्स वाइपर या दबोइया या कौड़ीवाला – भारत में पाया जाने वाला वाइपर या कौड़ीवाला सांप सबसे ज्यादा जहरीले सांपों में से एक है। भारत में इसके काटने से हर साल हजारों लोगों की मौत होती है। देश में पाए जाने वाले छोटे सापों में यह सबसे खतरनाक सांप है। इसकी औसत लंबाई करीब चार फुट होती है। इसका भोजन छोटी चिडि़यां और चूहे और छिपकली हैं।

किंग कोबरा – देश में पाए जाने वाले सबसे लंबे सांपों में से किंग कोबरा का नाम पहले स्थान पर है। इस सांप की लंबाई 13 से 15 फुट होती है। यह सांप जहरीला तो होता है लेकिन बाकी सांपों की अपेक्षा की इसका जहर कम घातक होता है। सबसे रोचक बात यह है कि किंग कोबरा का भोजन दूसरे छोटे सांप होते हैं। यह सांप नमी वाले जंगलों में रहना ज्यादा पसंद करता है। खासकर ठंडे स्थानों और बांस के जंगलों में यह अधिक पाया जाता है।

Loading...
loading...
Comments