अपने हौसले के दम पर आज है ये लड़की एक ओलंपिक खिलाड़ी

आप अकसर सुनते होगे जिनके कोई शारीरिक कमी होती है, तो भगवान उसे बाकी कई गुणों से भर देता है। यह सच भी है। सब कुछ होते हुए भी हम ख़ुश नहीं रहते। हमेशा शिकायतें करते रहते हैं। पर उन लोगों के बारे में सोचिए, जिन्हें हर रोज़ जिंदगी की एक नई जंग लड़नी होती है।

हर रोज़ एक नई मुसीबत का सामना करना पड़ता है। लेकिन वो अपनी मुसीबतों से हार मानने की जगह, उनसे लड़ते हैं। ऐसी ही कहानी है एक बच्ची की जिसके पैर नहीं है, लेकिन हौसलों की उड़ान काफी है। अपने हौसले के दम पर ही यह बच्ची आज एक ओलंपिक खिलाड़ी है।

◆ सड़क दुर्घटना में खोए दोनों पैर 

कियान होंग्‍यान का जन्म चीन के एक गाव में हुआ था। साल 2000 में जब कियान होंग्‍यान महज़ 4 साल की ही थी, तब एक ट्रक ने कियान को उनके घर के पास ही टक्कर मार दी थी। हालांकि उस दुर्घटना में कियान बच तो गई, पर कियान के पैर नहीं रहे। कियान को बचाने में डॉक्टर्स असमर्थ थे, इसलिए डॉक्टर को कियान के दोनों पैर काटने के लिए मजबूर होना पड़ा। कियान बहुत ही गरीब परिवार की बच्ची थी, इसलिए वो कृत्रिम अंगो का उपयोग नही कर पाई।

◆ बास्केट बॉल की मदद से चलना सीखा

कियान की ऐसी हालत देखकर कियान के दादा ने एक बास्केट बॉल को काटा और उसे कियान के शरीर के निचले भाग की जगह लगा दिया। इस बास्केट बॉल के इस्तेमाल से ही कियान ने चलना सीखा। साल 2005 में कियान ने अपनी फोटो खिंचवाई थी, जिसके बाद लोग उसे जानने लगे थे। वो अपनी जगह की स्टार बन गई। कियान के आस-पास के लोग उसे बास्केट बॉल गर्ल के नाम से बुलाने लगे। कियान की असामान्य परिस्थितियों की वजह से अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों का ध्यान भी कियान पर गया। अपनी प्रसिद्धि और दानदाताओं की दरियादिली की वजह से कियान, बिजिंग घूमने में सफल हुई। जहां उन्हें कृत्रिम पैर के जोड़े लगाए गए।

◆ पैरालिम्पिक प्रतियोगिता में जीते कई मेडल

साल 2007 में कियान विकलांगों के एक तैराकी क्लब की सदस्य बन गई। कियान ने तैराकी की कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया है। 2009 में कियान ने चीन के राष्ट्रीय पैरालिम्पिक स्वीमिंग प्रतियोगिता में 1 गोल्ड और 2 सिल्वर मैडल जीते हैं। सितंबर 2014 में कियान ने यून्नान प्रोवैंशियल पैरालिम्पिक गेम्स में 100 मीटर बैकस्ट्रोक का फाइनल भी जीता। अपनी मेहनत और लगन के दम पर कियान ने यह साबित किया है कि अगर आपके हौसले बुलंद है, तो आपको सफलता ज़रुर मिलेगी।

Loading...
loading...
Comments