आखिर क्यों पेशेवरों की पहली पसंद है गूगल

लोकप्रिय सर्च इंजन गूगल पेशेवरों की पहली पसंद बनता जा रहा है। इसका कारण वहां मिलने वाली एक से बढ़कर एक सुविधाएं हैं। गूगल में काम करने वाले लोगों को ऐसे लाभ मिलते हैं जिनके बारे में जानकर हर कोई यहां नौकरी करना चाहेगा। गूगल के को फाउंडर लेरी पेज और सर्जेई ब्रिन अपने स्टॉफ को बनाये रखने के लिए नई-नई नीतियां लाते रहते हैं। अभी हाल ही में गूगल ने अर्थ डे को भी अलग अंदाज में डूडल बनाकर सेलिब्रेट किया था। कंपनी की नीतियों के तहत काम के साथ ही आराम और मनोरंजन का भी भरपूर ध्यान रखा जाता है।

जो कारण गूगल को अन्य कंपनियों से अलग बनाने हैं वे यह हैं कि यहां काम करने वाले बीच में आराम भी कर सकते हैं। यहां तक कि गूगल ने अपने कर्मचारियों के लिए हेलमेट के आकार के प्रकोष्ठ तैयार किए हैं जिसमें वे काम के दौरान थकने पर कुछ मिनटों के लिए सो सकते हैं। इसके अलाव लजीज खाने का तो जवाब ही नहीं है। यहां तकरीबन 30 स्पेशल शेफ खाना तैयार करते हैं। कंपनी में कर्मचारियों के लिए बनने वाले खाने का विशेष ध्यान रखा जाता है। इसके साथ ही किसी कर्मचारी की मौत होने के बाद भी उसके परिवार को दस साल तक आधा वेतन दिया जाता है। इसके अलावा बच्चों को जब तक वे 19 साल के नहीं हो जाते हर महीने 1000 डॉलर दिए जाते हैं। यहां तक कि पिता बनने पर भी यहां पेरेंटल लीव (अवकाश) दिया जाता है।

इस दौर पुरूषों को छह सप्ताह और महिलाओं को 18 सप्तहा की छुट्टियां दी जाती हैं। इसके अलावा आप अपने पालतू जानवरों को भी कार्यालय में ला सकते हैं। गूगल कर्मचारी ऑफिस में अपने पालतू कुत्ते को लेकर आ सकते हैं। इस बारे में तर्क है कि इससे टीम का उत्साह बढ़ता है।

इसके साथ ही अगर गूगल में काम करते वक्त किसी कर्मचारी को लगता है कि अलग से केबिन में ज्यादा अच्छी तरह से काम कर सकते हैं तो यहां पर अलग-अलग थीम के वर्क स्टेशन बनाए गए हैं। जहां जाकर काम किया जा सकता है।इसके अलाव पढ़ने का शौक रखने वालों के लिए यहां हर तरह की किताबें मिलती हैं।

यहां पर टेबल टेनिस से लेकर मिनी गोल्फ खेलने की सुविधा मिलती है। जब भी इम्प्लॉई काम से बोर हो अपनी पसंद का खेल खेलने गूगल गेम रूम तक पहुंच सकते हैं। गूगल की शुरूआत 1998 में कैलिफोर्निया से हुई थी। गूगल एक अमेरिकन मल्टीनेशनल टेक्नोलॉजी कंपनी है, जो इंटरनेट रिलेटेड सर्विस और प्रोडक्ट्स के लिए जानी जाती है। जो ऑनलाइन एडवरटाइजिंग टेक्नोलॉजी, सर्च, क्लाउड कम्प्यूटिंग, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के लिए काम करती है। कंपनी ने हेड क्वार्टर माउंटेन व्यू, कैलिफोर्निया और यूनाइटेड स्टेट्स में हैं। गूगल के सीईओ भारतीय मूल के सुंदर पिचाई हैं। 2015 से वे गूगल के सीईओ हैं।

Loading...
loading...
Comments