गर्मियों में घड़े का ठंडा पानी आपके स्वास्थ्य के लिए अमृत

घड़े का फायदे जानकर आप रोज घड़े का ठंडा पानी पियेंगे

आज के दौर में लोग मिट्टी के बर्तन का इस्तेमाल भले ही भूल गए है। मगर आज भी मिट्टी के बर्तन यानि के घड़े का ठंडा पानी सवास्थ्य के लिए अमृत मना जाता है। हो सकता है मिट्टी का साधारण सा घड़ा, आपके स्टेटस सिंबल को मैच ना करे। लेकिन घड़े का पानी स्वास्थ्य के लिहाज से अमृत होता है। पीढ़ियों से, भारतीय घरों में पानी स्टोर करने के लिए मिट्टी के घड़े का इस्तेमाल किया जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार मिट्टी में कई प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। इसलिए घड़े में रखा पानी हमें स्वस्थ रखता है। घड़े का पानी पीने के और भी कई फायदे हैं।

प्रतिरक्षा बढ़ाता है: नियमित रूप से घड़े का पानी पीने से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा मिलता है। प्लास्टिक की बोतलों में पानी स्टोर करने से उसमें प्लास्टिक की अशुद्धियां आ जाती हैं और पानी अशुद्ध हो जाता है। यह भी पाया गया है कि घड़े में पानी स्टोर करने से शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ जाता है।

पानी में PH का संतुलन: घड़े का पानी पीने का एक और लाभ यह है कि मिट्टी में मौजूद क्षारीय गुण पानी की अम्लता के साथ प्रभावित होकर, उचित PH संतुलन प्रदान करता है। इस पानी को पीने से ऐसिडिटी पर अंकुश लगने के साथ ही पेट दर्द से भी राहत मिलती है।

गले को रखे ठीक: कई बार फ्रिज का ठंडा पानी, गले के साथ ही शरीर के दूसरे अंगों को भी एक दम से ठंडा कर शरीर पर बुरा प्रभाव डालता है। ऐसा होने से गले की कोशिकाओं का ताप अचानक गिर जाता है और कई तरह की बीमारियां होती हैं। इससे गला खराब होता है। जबकि घड़े का पानी गले पर सूदिंग इफेक्ट देता है।

गर्भवती स्त्री के लिए फायदेमंद: प्रेग्नेंट लेडीज को सलाह दी जाती है कि वे फ्रिज में रखा बहुत ज्यादा ठंडा पानी पीने की बजाए घड़े या सुराही का पानी पिएं। ऐसा इसलिए क्योंकि घड़े में रखा पानी न सिर्फ उनकी सेहत के लिए अच्छा होता है, बल्कि पानी में मिट्टी का सौंधापन बस जाने के कारण गर्भवती महिला को भी अच्छा लगता है।

Loading...
loading...
Comments