इन आदतों से आपका भी किडनी हो सकता है पूरी तरह फेल

सावधान! कही आप इन आदतों का शिकार तो नही वरना सकता है किडनी फेल

आजकल भारत में तेजी से किडनी फेल होने की शिकायत मिल रही है। इसमें हर वर्ग के लोग शामिल है चाहे युवा, बच्चे, मर्द और बुढ़ें हो। किडनी का काम क्या होता है यह सबको पता है लेकिन हेल्दी लाइफस्टाइल के न होने की वजह से आजकल किडनी फेल्योर के केस बहुत ज्यादा आ रहे हैं। ये शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने, ब्लड सेल्स बनाने का काम करती है। लेकिन हो सकता है आपके अनहेल्दी इटिंग हैबिट्स की वजह से आपकी किडनी खराब हो रही हो ऐसे में इसके बारे में जानना बेहद जरूरी है।

किडनी हमारे शरीर में से विषैले पदार्थों को बाहर निकाले का काम करती है। लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो जाने-अनजाने में कुछ ऐसी आदतों को अपना लेते हैं जो उनकी किडनी को काफी नुकसान पहुंचाती हैं। जिससे बाद में किडनी खराब होने पर उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए आज हम आपको उन आदतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो किडनी फेल होने की वजह बन रही हैं।

नमक की मात्रा अधिक लेना- शरीर को ठीक से काम करने के लिए नमक या सोडियम की जरूरत होती है।लेकिन कुछ लोग बहुत ज्यादा नमक खाते हैं जिससे ब्लड-प्रेशर बढ़ जाता है और उसका सीधा असर हमारी किडनी पर होता है। रोज हमें अपनी डाइट में 5 ग्राम नमक से अधिक नहीं लेना चाहिए।

कॉफी की लत- नमक की तरह कॉफी भी ब्लड-प्रेशर बढ़ाती है, जिससे गुर्दे पर बहुत ही दबाब पड़ता है। काफी का अधिक मात्रा में सेवन किडनी पूरी तरह खराब होने का कारण बन सकता है।

पानी न पीना- किडनी हमारे खून को साफ करके शरीर से सारा वेस्ट बाहर निकालने का काम करती है। जब आप पूरी मात्रा में पानी नहीं पीते तो यही विषैले तत्व शरीर में इकट्ठे होने शुरू हो जाते है,जो कि शरीर को कई बीमारियां देते है।

विटामिन और मिनरल्स की कमी- अच्छी सेहत और बढ़िया किडनी के लिए जरूरी है कि ताजी सब्जियों और फलों से भरपूर साफ डाइट ली जाए। डाइट में होने वाली कमियों से किडनी में पत्थरी होने का खतरा बढ़ जाता है। विटामिन बी 6 और मैग्नीशियम का अापकी डाइट में होना ,गुर्दे की पत्थरी के जोखिम को काफी कम करता है।

चीनी की अधिकता- कुछ लोग अपनी डेली डाइट में 2 या इससे भी अधिक चीनी मिले ड्रिंक लेते है,जिससे उनके यूरिन लेवल में प्रोटीन की मात्रा अधिक हो जाती है। जोकि ये संकेत होता है कि हमारी किडनी अपना काम अच्छे से नहीं कर रही।

ज्यादा प्रोटीन लेना- प्रोटीन को अधिक मात्रा में लेना या फिर डाइट में रेड मीट का अधिक सेवन से हमारी किडनी पर दबाव बढ़ जाता है। इसका मतलब कि अब गुर्दे को काम करने के लिए अधिक जोर लगाना पड़ेगा। जो कि उसके समय से पहले खराब होने का संकेत है।

पेनकिलर दवाओं का सेवन ज्यादा करना- कुछ लोग छोटे मोटे दर्द के लिए दर्द निवारक दवाओं का बहुत सेवन करते हैं। लेकिन ये सब दवाएं हमारी किडनी को पूरी तरह खराब कर देती है।

शराब का सेवन करना- कुछ समय बाद एक गिलास बीयर लेने में कोई नुक्सान नहीं है। लेकिन कुछ लोग एक ड्रिंक के बाद नहीं रूकते और अधिक शराब का सेवन किडनी और लीवर दोंनों को खराब कर देता है।

बाथरूम रोककर रखना-अधिकतर लोग जब बाहर जाते हैं तो पब्लिक बाथरूम यूज नहीं करते और बाथरूम को रोककर रखते हैं। जोकि किडनी खराब होने का एक बड़ा कारण बन सकता है। इससे किडनी पर दबाब पड़ता है। इसलिए यूरिन रोके नहीं।

पूरी नींद न लेना- रात को आराम करना हमारी सेहत के लिए बहुत ही जरूरी है। भरपूर नींद न लेना कई बीमारियों को न्योता देता है। सोते हुए हमारा शरीर डैमेज सेल्स को ठीक करता है। किडनी को स्वस्थ रखने के लिए भरपूर नींद सोएं।

Loading...
loading...
Comments