अगर दुनिया के सभी लोग शाकाहारी हो जाए तो ऐसा होगा

...... तो 70 लाख मौते कम होगी!

अगर सारी दुनिया शाकाहारी हो जाए तो क्या होगा। रिसर्च कहती है कि 2050 तक दुनिया शाकाहारी हो जाए तो हर साल होने वाली 70 लाख मौतें कम हो जाएंगी। असल में शाकाहार अपनाने से दिल की बीमारी नहीं होगी डायबिटीज़ और स्ट्रोक समेत कई तरह के कैंसर के मामले भी कम हो जाएंगे। दावा है कि दुनिया की कुल कमाई के 2 से 3फीसदी के बराबर इलाज पर होने वाला खर्च कम हो जाएगा।

ऑक्सफर्ड मार्टिन स्कूल फ्यूचर ऑफ फूड प्रोग्राम के वैज्ञानिक भी मानते हैं कि मांसाहार बंद होने से दुनिया में ऩुकसानदेह गैस कम हो जाएगी। ऐसा रेड मीट से छुटकारा मिलने से होगा जिनसे ऩुकसानदेह मीथेन गैस निकलती है। मीथेन कम होने से जलवायु परिवर्तन का असर भी कम पड़ेगा। दुनिया मांस खाना छोड़ दें इससे सिर्फ फ़ायदा नहीं होगा ऩुकसान भी हो सकता है। दुनिया के सूखे इलाकों में जहां सिर्फ पशुपालन हो सकता है वहां के किसान उजड़ जाएंगे।उन्हें अपना पुश्तैनी इल़ाका छोड़ नई जगहों पर बसना पड़ेगा। ऐसे में उन लोगों की सांस्कृतिक पहचान खतरे में पड़ जाएगी।

पशुपालन से जुड़े किसानों को नया काम सीखना पड़ेगा। दुनिया के शाकाहारी बनने से फायदा होगा या नुकसान ये समझना अब आपके हाथ है। वैसे हम अपने देश की बात करें तो यहां मांस खाने वालों की संख्या घट रही है। आबादी का हिसाब रखने वाली एजेंसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक 10 साल में भारत में मांस खाने वाले लोग 4 फीसदी घट गए है। यानी 2004 जहां 15 साल से ज़्यादा उम्र वाले 75 फीसदी लोग मांसाहारी थे। वहीं 2014 में उनकी संख्या घट कर 71 फीसदी ही रह गई हैं।

Loading...
loading...
Comments