देश-विदेश की रहस्यमयी एवं विचित्र नदियां, झीलें व झरने…!

धरती में हरियाली पैदा करने के लिए ये नदियां, झीलें व झरने हमारे लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं। सारे विश्व में इन जलस्रोतों से ही हमारा जीवन है। ऐसी ही कुछ रहस्यमयी आश्चर्यजनक एवं विचित्र नदियां, झीलें एवं झरने हैं जिन्हें देखकर मनुष्य दांतों तले उंगलियां दबाने को मजबूर हो जाता है।

  • भारत में गंगा नदी हिन्दुओं द्वारा इतनी पवित्र मानी जाती है कि इसका ध्यान करने से ही मनुष्य के सब पाप नष्ट हो जाते हैं। इसका पानी तीर्थयात्री धातु की सुराही या घड़ों में भरकर रखते हैं एवं इसकी पूजा भी करते हैं। इस नदी का पानी इन बर्तनों में बंद करने पर कई वर्षों तक नहीं सड़ता।

अमेरिका के नेवरास्का क्षेत्र में एक नदी है, इसका जल शहद से भी मीठा होता है। सन् 1930 में इस नदी की खोज की गई थी। इस नदी का आकार दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है। इसका पानी इतना मीठा क्यों है? इसकी खोज में वैज्ञानिक सतत प्रयासरत हैं। भविष्य में इस रहस्य के उजागर होने की संभावना है।

  • चिली तथा अर्जेंटीना देशों के मध्य रायओप विनाग्रे नाम की नदी बहती है। इस नदी का पानी नींबू की तरह खट्टा होता है। वहां के रहवासी इस जल में शकर या नमक मिलाकर शर्बत के रूप में इसका उपयोग करते हैं।

अफ्रीका में एक ऐसी ही नदी है एगारीन्यर्की। यह नदी भूरे रंग की दिखती है एवं इसके जल का स्वाद बीयर जैसा होता है। जांच करने पर इसके पानी में अल्कोहल का अंश बिलकुल भी नहीं पाया गया। शराब के शौकीन लोग इस जल को बड़े चाव से पीते हैं, लेकिन इससे नशा बिलकुल भी नहीं होता है।

  • स्पेन में खूनी नदी के नाम से विख्यात एक नदी है। रिओरिरी नामक इस नदी में एक ऐसा खनिज पाया जाता है, जो हवा के संपर्क में आते ही इसके पानी को लाल रंग में बदल देता है। उस क्षेत्र में तेज हवाएं जितनी चलती हैं, नदी का रंग भी उतना ही लाल हो जाता है।

लगभग 8 दशक पूर्व फ्रांसीसी वैज्ञानिकों ने अल्जीरिया में एक ऐसी नदी की खोज की थी जिसका रंग स्याही के समान गहरा नीला था। इसमें लोहा तथा लेड ऑक्साइड के रासायनिक मिश्रण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

  • ऐसी ही ऑस्ट्रिया की नदी ब्ल्यू डेन्यूब एक नीले जल की नदी है। इस नदी में दो अन्य नदियां भूरी इल्ज नदी और पीली इन नदी मिल जाती है। संगम स्थल से काफी दूर तक इन नदियों को तिरंगी पट्टी के रूप में देखा जा सकता है। लोग इस तिरंगे सौंदर्य को देखकर मंत्रमुग्ध हुए बिना नहीं रहते।

ऐसे ही मसाईलैंड की काली नदी तथा चीन की पीली नदी अपने प्राकृतिक रंगों की सुंदरता के लिए विश्वप्रसिद्ध है।

  • दक्षिण अमेरिका की टिटिकाका झील विश्व में सर्वाधिक ऊंचाई पर स्थित है। उसमें जलयान चलाए जा सकते हैं। उसकी अधिकतम गहराई 370 मीटर और क्षेत्रफल 8.285 वर्ग किमी है।

तिब्बत की अरूत्सो झील का पानी प्रत्येक 12 वर्ष बाद बारी-बारी से खारे और मीठे जल में बदलता रहता है। एन ओ आयरलैंड में एंट्रिम प्रदेश की लोधारीम झील समय-समय पर एक भूमिगत निकास से अचानक गायब हो जाती है।

  • सोवियत संघ के दक्षिणी भाग और ईरान के बीच स्थित कैस्पियन सागर दुनिया की सबसे बड़ी झील के रूप में गिनीज बुक में दर्ज है। इसकी लंबाई 1225 किमी और क्षेत्रफल 3 लाख 60 हजार 700 वर्ग किमी है। उसकी अधिकतम गहराई 1.025 मीटर है। समुद्र तल से उसका तल साढ़े 28 मीटर नीचे है।

ऑस्ट्रिया केटॉर्न पर्वत में नेडल जलप्रपात प्रतिदिन पानी के ऊपर ठीक साढ़े 3 बजे मध्याह्न एक इन्द्रधनुष प्रतिबिंबित करता है।

Loading...
loading...

You might also like More from author

Comments